पीएम मोदी की मां से की मुलाकात Jubin Nautiyal ने , कहा- ‘अब समझ आया वो इतने विन्रम क्यों हैं’
पीएम मोदी की मां से की मुलाकात Jubin Nautiyal ने , कहा- ‘अब समझ आया वो इतने विन्रम क्यों हैं’

अपने गानों से लाखों लोगों को दीवाना बनाने वाले मशहूर गायक जुबिन नौटियाल का गाना इन दिनों सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। अब उनकी एक तस्वीर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है, जिसमें वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन के साथ नजर आ रहे हैं।

देश की आजादी को जल्द ही 75 साल पूरे होने वाले हैं और इस अवसर पर अहमदाबाद के गांधी आश्रम में ‘स्वतंत्रता का अमृत महोत्सव’ आयोजित किया गया। इस आयोजन में, बॉलीवुड गायक जुबिन नौटियाल ने एक देशभक्ति गीत के साथ अपने प्रदर्शन से सभी का दिल जीत लिया और इसके बाद वह पीएम मोदी के छोटे भाई पंकज के साथ उनकी मां से मिलने उनके घर पहुंचे।

यह भी पढ़ें:   इस वीडियो के कारण बुरी तरह ट्रोल हुईं अंकिता लोखंडे, यूजर्स बोले- शुक्र है तुम्हारा असली रूप देखने के लिए..

गायक नौटियाल ने पीएम की मां से मुलाकात कर आशीर्वाद लिया और अपने ऑफिशियल फेसबुक पर मुलाकात की तस्वीरें भी साझा कीं, जिसमें वह प्रधानमंत्री की मां हीराबेन से बात करते नजर आ रहे हैं। उन्होंने इन तस्वीरों को अपने ऑफिशियल फेसबुक पर साझा करने के लिए एक विशेष कैप्शन लिखा है और साथ ही पीएम मोदी के विन्रम होनी की भी प्रशंसा की है। उन्होंने कैप्शन में लिखा, “अब मुझे पता चला है कि पीएम इतने विनम्र क्यों हैं और जीमन से जुड़े हुए क्यों हैं। उन्होंने अपनी मां से सीखा है। ‘

भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार 12 मार्च को ‘अमृत महोत्सव’ की शुरुआत की और इसी दिन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने साबरमती आश्रम से दांडी मार्च की शुरुआत की थी । प्रधानमंत्री ने अहमदाबाद में साबरमती आश्रम से नवसारी जिले के दांडी तक की यात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया ।

यह भी पढ़ें:   अहमदाबाद के इस टीनएजर ने 19 साल की उम्र में खड़ी कर दी 35 करोड़ की कंपनी

बता दें कि महात्मा गांधी के नेतृत्व में 12 मार्च 1930 को प्रसिद्ध दांडी मार्च यात्रा को नमक सत्याग्रह कहा गया । अंग्रेजों के सभी प्रतिबंधों के बावजूद, यह यात्रा साबरमती आश्रम से शुरू हुई और नवसारी के दांडी तक पहुंची। हमारी स्वतंत्रता में इस आंदोलन की महत्वपूर्ण भूमिका है। वहीं, पीएम ने दांडी मार्च की रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि ‘नमक का मतलब है हमारे देश में ईमानदारी’।