रिपब्लिक भारत के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी की आवाज दबाने की साजिश लगातार रची जा रहा है। एक के बाद एक केस जिस तरह से रिपब्लिक के पत्रकारों और अर्नब के खिलाफ दर्ज किए जा रहे हैं, जिससे एक बड़ी साजिश की ओर इशारा कर रहा है।

इसी बीच अर्नब गोस्वामी ने मारपीट किए जाने और अपनी जान को खतरे में होने को लेकर चौंकाने वाले खुलासे किए, जिस वक्त उन्हें चार दिनों की न्यायिक हिरासत में रखने के बाद रविवार को अलीबाग के क्वारंटीन सेंटर से तलोजा जेल ले जाया जा रहा था।

READ  Amitabh Bachchan, Anushka Sharma से लेकर प्रभास तक Bollywood सेलेब्स नवरात्रि, गुड़ी पड़वा की शुभकामनाएं देते हैं

बता दें, पूरी तरह से कवर पुलिस वैन में अर्नब गोस्वामी को अलीबाग के क्वारंटीन सेंटर से तलोजा जेल ले जाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि मुझे वकील से नहीं मिलने दिया, सुबह धक्का दिया और मारपीट की, मुझे सुबह 6 बजे उठाया। मुझसे कहा कि वकील से बात नहीं करने देंगे, देशवासियों को बता दो कि मेरी जान को खतरा है।

अर्नब ने आगे कहा कि मेरी जान खतरे में है। कोर्ट से कहो मेरी मदद करें, जब मैं वकील से बात करना चाहता था जेलर ने मेरे साथ मारपीट की। जब मैं वकील से बात करना चाहता था मुझे मारा गया।

READ  कंगना रनोट को कहा शुक्रिया तो चौंक गये फैंस तापसी पन्नू ने 'फ़िल्मफेयर अवॉर्ड' के लिए , यह जवाब दिया थलाइवी एक्ट्रेस ने