कोविड-19 मामलों में वृद्धि के कारण दिल्ली से सटे दो शहरों में धारा 144 लागू, , अब गाजियाबाद के बाद नोएडा में प्रतिबंध लगा
कोविड-19 मामलों में वृद्धि के कारण दिल्ली से सटे दो शहरों में धारा 144 लागू, , अब गाजियाबाद के बाद नोएडा में प्रतिबंध लगा

दिल्ली से सटे दो शहरों में कोरोना के बढ़ते मामले के कारण प्रशासन ने धारा 144 लगा दी है। प्रशासन ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए यह कदम उठाया है। पहले गाजियाबाद और अब नोएडा में प्रतिबंध। गाजियाबाद में बुधवार को धारा 144 लगाई गई, जबकि गौतमबुद्धनगर में गुरुवार को धारा 144 लागू कर दी गई है।

गौतमबुद्धनगर पुलिस ने कहा कि धारा 144 लागू की जा रही है क्योंकि बहुत से लोग कोरोना से संबंधित दिशानिर्देशों का ठीक से पालन नहीं कर रहे हैं। सार्वजनिक स्थान पर लोग शारीरिक दूरी का विशेष ध्यान नहीं रख रहे हैं, जबकि मास्क भी सही तरीके से लगाया जा रहा है। कई लोग बिना मास्क के सार्वजनिक स्थानों पर देखे जा रहे हैं। आपको बता दें कि सरकार हर स्तर पर लोगों को बता रही है कि कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है, ऐसे में पूरा ध्यान रखना होगा। पिछले कुछ दिनों से कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं, ऐसे में लापरवाही लोगों पर भारी पड़ सकती है।

यह भी पढ़ें:   Tandav वेब सीरीज के खिलाफ लखनऊ में दर्ज हुआ FIR, धार्मिक भावनाएं भड़काने का आरोप

जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या एक बार फिर बढ़ने लगी है। बुधवार को, 7 नए संक्रमित मिले और 9 स्वस्थ हो गए। कुल संक्रामक का आंकड़ा बढ़कर 25,693 हो गया है। उनमें से 76 सक्रिय हैं। दूसरी ओर, विभागीय अधिकारियों को 5 जनवरी के बाद से एक भी संक्रमित की मौत नहीं होने से राहत मिली है। अब तक कुल 25,526 लोग कोरोना से ठीक हुए हैं और सामान्य जीवन जी रहे हैं। संक्रमण की रोकथाम के लिए, स्वास्थ्य विभाग ने ट्रैकिंग प्रणाली को मजबूत करके और ट्रैवलर हिस्ट्री निकालकर लोगों की कोरोना की जाँच करके विशेष ध्यान देना शुरू कर दियाहै।

यह भी पढ़ें:   4 मंडलों के आयुक्त व 6 जिलों के डीएम इधर से उधर, यूपी में बड़ा प्रशासनिक फेरबदल, देखें ट्रांसफर लिस्ट...

यहां, स्वास्थ्य विभाग ने 152 लोगों को होम क्वारंटाइन किया है जो लंदन, संयुक्त अरब अमीरात और दक्षिण अफ्रीका से लौटे थे। कोरोना प्रभावित राज्यों से आने वाले लोगों की जानकारी के लिए, स्वास्थ्य विभाग ने रेलवे स्टेशन और बस डिपो में एक हफ्ते पहले एक पत्र लिखा था, लेकिन यहां से जानकारी नहीं मिलने के कारण इन लोगों पर नजर नहीं रखी जा रही है। एयरपोर्ट अथॉरिटी विदेश से आने वाले लोगों की जानकारी सरकार को भेजती है। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, डॉ. ललित कुमार ने बताया कि दैनिक जानकारी होम क्वारंटाइन में रहने वाले लोगों की ली जा रही है। सभी की सेहत ठीक है।