आयुष्मान कार्ड बनेगा मुफ्त में अब यूपी में, 10 मार्च से चलेगा विशेष अभियान गोल्डन कार्ड देने के लिए
आयुष्मान कार्ड बनेगा मुफ्त में अब यूपी में, 10 मार्च से चलेगा विशेष अभियान गोल्डन कार्ड देने के लिए

उत्तर प्रदेश में आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के पात्र लाभार्थियों के आयुष्मान कार्ड अब नि: शुल्क बनाए जाएंगे। अब तक उन्हें कार्ड बनवाने के लिए 30 रुपये खर्च करने पड़ते हैं। जल्द ही उन्हें एक आकर्षक प्लास्टिक गोल्डन कार्ड दिया जाएगा। इसके लिए राज्य में 10 से 24 मार्च तक विशेष अभियान चलाया जाएगा। अब तक राज्य में लगभग 1.26 करोड़ परिवारों के कार्ड बनाए गए हैं। अभी 1.06 करोड़ परिवारों का आयुष्मान कार्ड बनना बाकी है। अब भी 63 प्रतिशत परिवार ऐसे हैं जिनमें एक भी सदस्य का कार्ड नहीं बना है।

यह भी पढ़ें:   Honeymoon मनाने पहुंचे मालदीव्स Dia Mirza और Vaibhav Rekhi शादी के एक महीने बाद

स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने सभी सीएमओ को इस योजना के पात्र लोगों को योजना के तहत सूचीबद्ध जन सुविधा केंद्रों और अस्पतालों में मुफ्त में कार्ड बनाने के निर्देश दिए हैं। अभी एक कागज का कार्ड बनाया जा रहा है, जल्द ही लोगों को प्लास्टिक कार्ड दिया जाएगा। अब तक इसे गोल्डन कार्ड कहा जाता था, लेकिन अब इसका नाम बदलकर आयुष्मान कार्ड कर दिया गया है। वर्तमान में, 10 मार्च से शुरू होने वाले आयुष्मान भारत पखवाड़े में कार्ड बनाने पर जोर दिया जाएगा, क्योंकि अब तक 63 प्रतिशत परिवार आयुष्मान कार्ड विहीन हैं।

यह भी पढ़ें:   शादी करेंगे हरमन बावेजा 21 मार्च को , कोलकाता में लेंगे सात फेरे

उत्तर प्रदेश में अभी तक 1.18 करोड़ परिवारों का आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना और 8.43 लाख परिवारों को मुख्मंत्री जन आरोग्य योजना के तहत कार्ड बनाए गए हैं। ऐसी स्थिति में, बचे हुए 1.06 करोड़ परिवारों के कार्ड बनाने पर जोर दिया जा रहा है। इस योजना के लिए पात्र एक परिवार को एक वर्ष में पाँच लाख रुपये का निःशुल्क उपचार की सुविधा दी जाती है।

आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत गरीब लोग पांच लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज करवा सकते हैं । यह योजना ग्रामीण और शहरी दोनों लोगों के लिए है। इसके लिए आयुष्मान कार्ड बनाना होगा। आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनाने के लिए, आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा, लेकिन इसके लिए आप घर से आवेदन नहीं कर सकते। आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड प्राप्त करने के लिए, आपको नजदीकी सीएससी केंद्र पर जाना होगा या आप इसे जिला कार्यालय में बनवा सकते हैं । इसके लिए आधार कार्ट, वोटर आईडी, राशन कार्ड और फोटो की आवश्यकता होती है।