Republic_Day_Parad

नई दिल्ली: गणतंत्र दिवस 2021 के लिए केवल एक दिन बाकी है ,गणतंत्र दिवस परेड के साथ-साथ , भारत अपनी सैन्य ताकत का प्रदर्शन करने के लिए भी तैयार है।

गणतंत्र दिवस की ग्रैंड परेड, जीवन के सभी क्षेत्रों के लोगों की उपस्थिति में, हजारों दर्शकों और वास्तव में एक सकारात्मक माहौल के लिए हमेशा पहचाना जाता है।

हालांकि, इस वर्ष गणतंत्र दिवस पिछले वर्षों की तुलना में बहुत कुछ अलग होगा, क्योंकि यह पहली बार है जब इसे कोविद -19 महामारी के बीच में मनाया जा रहा है ।

यह भी पढ़ें:   TRP स्कैम केस में मुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, रिपब्लिक टीवी के CEO विकास खानचंदानी गिरफ्तार

प्रसिद्ध गणतंत्र दिवस परेड में भी, सुधार की एक कड़ी देखने की उम्मीद है, बाहरी लोगो के लिए भागीदारी और प्रवेश दोनों ही प्रतिबंधित होगा।

इस साल का गणतंत्र दिवस परेड कुछ इस तरह से अलग होगा

गणतंत्र दिवस परेड बिना मुख्य अतिथि के

पचास से अधिक वर्षों में, यह मुख्य अतिथि के बिना पहली गणतंत्र दिवस परेड होगी। यूनाइटेड किंगडम में कोविद -19 मामलों में तेजी से वृद्धि के कारण, ब्रिटिश प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन ने अपनी भारत की यात्रा को रद्द कर दिया है।

यह भी पढ़ें:   अर्नब की सुरक्षा और स्वास्थ्य को लेकर गवर्नर ने जताई चिंता, गृह मंत्री देशमुख से की बात

गणतंत्र दिवस 2021 की परेड में महत्वपूर्ण सुधार

सरकार परेड के आकार को कम करने के लिए सहमत हुई है । इस वर्ष गणतंत्र दिवस परेड सिर्फ 25,000 दर्शकों द्वारा देखी जाएगी। पिछले वर्ष 150,000 दर्शकों की अनुमति थी।

परेड मार्ग को भी छोटा कर दिया गया है और यह केवल राष्ट्रीय स्टेडियम तक ही होगा । 15 साल से कम उम्र के बच्चे परेड में हिस्सा नहीं लेंगे।

सामाजिक दूरी पर भी ध्यान

दर्शक अलग-अलग नई वस्तुओं को देख पाएगे । जवान मास्क पहने हुये नजर आने वाले हैं। उत्सव को देखने आने वाले लोगों के लिए, सामाजिक दूरी का पालन काना होगा ।

यह भी पढ़ें:   26 जनवरी को दिल्ली में हुए बवाल में घायल पुलिसवालों के परिजन कर रहे विरोध प्रदर्शन

रिपब्लिक डे में पहली बार राफेल

भारतीय वायु सेना के अनुसार, नए शामिल राफेल लड़ाकू विमान गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल होंगे, और ‘वर्टिकल चार्ली’ के गठन के लिए फ्लाईपास्ट में शामिल होंगे।

फ्लाईपास्ट में कुल 38 भारतीय वायु सेना (IAF) विमान और भारतीय सेना के चार विमान शामिल होंगे।

परेड में शामिल होने वाली पहली महिला फाइटर पायलट

परेड में हिस्सा लेने वाली पहली महिला फाइटर पायलट होंगी, फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कंठ। 28 वर्षीय यह भारतीय वायु सेना (IAF) की झांकी का हिस्सा होगी ।

यह भी पढ़ें:   PM Modi के भाई प्रहलाद मोदी ने सरकार पर उठाए ये सवाल, खुलकर मीडिया से कहीं ये बातें

झांकी में निर्माणाधीन राम मंदिर की भी झलक

उत्तर प्रदेश की झांकी में अयोध्या में वर्तमान में निर्माणाधीन राम मंदिर की प्रतिकृति होगी। मंदिर, शहर से जुड़े इतिहास, रीति और कला को भी प्रदर्शित किया जाएगा।

किसानों द्वारा मेगा ट्रैक्टर रैली

अपेक्षित रैली में भाग लेने के लिए देश भर के किसान दिल्ली तक मार्च कर रहे हैं। पंजाब, हरियाणा और राजस्थान के ट्रैक्टरों ने टिकरी सीमा में प्रवेश कर लिया है क्योंकि किसान लगभग दो महीने से विरोध में बैठे हैं।

यह भी पढ़ें:   Farmers Protest: सरकार ने किसानों को भेजा प्रस्ताव, जानें कृषि कानूनों में क्या-क्या बदलाव संभव

किसान नेताओं ने कहा है कि ट्रैक्टर परेड शांतिपूर्ण रहेगी और आधिकारिक गणतंत्र दिवस परेड पर कोई असर नहीं पड़ेगा।