कोरोना वायरस के एक और टीके को मिली मंजूरी भारत में
कोरोना वायरस के एक और टीके को मिली मंजूरी भारत में

भारत में कोविड -19 संक्रमण के तेजी से बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए तीसरे कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दे दी गई है। देश के कई राज्यों में कोरोना वायरस के लिए कम पड़े टीके के स्टॉक के मद्देनजर, विशेषज्ञ समिति ने स्पूतनिक वी के आपातकालीन उपयोग पर सोमवार को एक बैठक की, जिसमें इसे सहमति दे दी गई। कोरोना टीकाकरण देश में जनवरी के महीने में शुरू हुआ और अब तक कुल 10,45,28,565 लोगों को कोरोना वायरस के टीके लगाए जा चुके हैं।

यह भी पढ़ें:   आलिया ने फिर कराया Photoshoot , Bikini को लेकर हो चुकी हैं ट्रोल

Covishield व covaxine का हो रहा इस्तेमाल

आपको बता दें कि अभी देश में दो COVID-19 टीके विकसित किए गए हैं। उनमें से एक कोविशील्ड है और दूसरा कोवैक्सीन है। वहीं, इस साल की तीसरी तिमाही के अंत तक पांच और टीके आने की खबर है। इनमें Sputnik V, बायोलॉजिकल ई द्वारा विकसित जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन, Serum India’s Novavax vaccine , जायडस कैडिला वैक्सीन और भारत बायोटेक की Intranasal vaccine है।

91.6 प्रतिशत प्रभावी ‘ स्पूतनिक V ‘: आरडीआईएफ

हाल ही में भारत में स्पूतनिक वी वैक्सीन के उत्पादन के लिए रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष (आरडीआईएफ) और हैदराबाद स्थित विरचो बायोटेक के बीच एक समझौते पर हस्ताक्षर किए गए थे। दोनों के एक संयुक्त बयान में कहा गया है कि प्रौद्योगिकी हस्तांतरण का काम 2021 की दूसरी तिमाही में पूरा होने की उम्मीद है, जिसके बाद वैक्सीन का कमर्शियल उत्पादन शुरू हो जाएगा। बता दें कि इनके बयान के अनुसार स्पूतनिक 91.6 प्रतिशत प्रभावी है।

यह भी पढ़ें:   कोरोना वायरस इन इंडिया: पीएम मोदी ने संकेत दिए , कोरोना की तीसरी लहर से पहले ले सकते हैं कठोर निर्णय

देश संक्रमण की दूसरी लहर से जूझ रहा है

वास्तव में, महाराष्ट्र, दिल्ली छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, पंजाब, उत्तर प्रदेश सहित देश के अन्य राज्यों में, कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। हालांकि, प्रशासन द्वारा सख्त और एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं। सप्ताहांत में बंद से लेकर रात के कर्फ्यू सहित कई पाबंदियों की शुरुआत हो गई  हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, रविवार को देश में 1,68,912 नए कोविड -19 मामले सामने आए और 904 संक्रमित लोगों की मौत हुई। वहीं, देश में कुल 12,01,009 सक्रिय मामले हैं।